Call Us : (+91) 0755 4096900-06 - Mail : bloggerspark@scratchmysoul.com

Swati Shobha Sevlani : Blogs

Blog

कागज़ की कश्ती: जिंदगी

आखिर क्या हैं यह जिंदगी ??
एक कागज़ की कश्ती ,
संभलती, गिरती, फिर भी चलती !!
साहिल पर रूकती.. टकराती ...
लहरों के साथ चलती,
कागज़ की कश्ती!!!

कभी गिर जाती तो,
दो मासूम हाथों के बीच,
गर्माहट पाती,
और फिर गहरे पानी में गोते लगाती,
कागज़ की कश्ती!!!

कभी निर्लज , कभी सहज,
संबल और सहनशील,
फिर भी नाज़ुक गीला कागज़,
कभी रुकी हुई शांत,
बिना किसी आहट,
जिंदगी !!!

कहीं सूरज की तरफ जाती,
मंजिल को तराशती,
पानी में लकीरें बना के,
पत्थरों को चूमती हुई,
जिंदगी ..जिंदगी......

जब अस्तित्व खो जाएगा,
तब पहुंच हो जाएगी तरल पे,
जहाँ होगा अंतर का आभास,
एक मोक्ष और उसका एहसास !!!!


स्वाति शोभा सेवलानी

Post your comment

7 Comments

About The Author

Photograph

Swati Shobha Sevlani

Media/Journalist/Author

Madhya Pradesh ,  INDIA

I traveled a long way to see my dreams and slept many years to dream them again and again but I am always confused about one thing.


What is real and what is not real? Is it just a plasma screen or real plasma in the cell of life? A real scene or sequences of some missing reel?

And yes, we all are sandwiched between the joy and agony of life.
So, keep moving on! :) :)

I rarely scribble and sometimes more frequently and it's always nice to get connected to everyone on this innovative platform. 


You can read more about me at "Phoenix Reborn".


Ciao!
Smiles!


View More 

Samsung

Recent Blogs By Author

Gitanjali