Call Us : (+91) 0755 4096900-06 - Mail : bloggerspark@scratchmysoul.com

Trisha Gaur : Blogs

Blog

नायकों को सलाम

नारी समाज की पालक होती है, वो जननी होती है और पोशक भी पर एक शिक्षित नारी समाज की मार्गदर्शक होती है....हम सबने कहीं ना कहीं नारी जाति के प्रति एक सांत्वना का भाव आता है .....आज भी यह समझ नहीं पाती हूँ कीआखिर नारी....जो इस सृष्टि को पूर्णता प्रदान करने की कुव्वत रखती है....उसके प्रति इतनी सहानुभूति क्यूँ?? इक्कीसवीं सदी में आने के बाद हम चाँद तारों पर उड़ने की बातें करते हैं...नारी के अस्तित्व को गरिमा प्रदान करने की बात भी करते हैं...पर कष्ट तब होता है जब नारी की परिभाषा सुनीता विलिअम्स, कल्पना चावला, किरण बेदी और थोडा आधुनिक हुए तो प्रियंका चोपडा और ऐश्वर्या राय तक ही सीमित हो जाती है.....स्वामी दयानंद सरस्वती ने कहा वेदों की ओर चलो और समाज ने यत्र नारी पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता कंठस्थ कर लिया.....पर उसपे अमल शायद ही कभी किया...सुनने में थोड़ा हास्यस्पद लगे पर नारी और स्त्री आज के परिप्रेक्ष्य में मेरे लिए दो अलग अस्तित्व हैं...नारी में नर से उद्धृत एक छवि दिखती है जो शायद नर की छाया में ही कहीं विलीन हो जाती है पर स्त्री एक नए गरिमामय अस्तित्व की परिचायक है जो पूर्ण स्वरुप है...मात्र छवि नहीं...नायिका कहना थोड़ा वर्ग सूचक लगता है क्योंकि देखा जाए तो शब्दावली नायक को ही परिभाषित करती है और नायिका नायक का स्त्रीलिंग के रूप में मान लिया जाता है...क्या ये किसी पर निर्भर होने की पराकाष्ठा नहीं हुई कि एक शब्द का अर्थ भी उसके पुरुष रूप से मिले...इसलिए सलाम है समाज के नए नायकों को...ऐसे नायक जिनका नाम किरण, प्रियंका, ऐश्वर्या और सुनीता से इतर है....रजनी, अभिलाषा, रौशनी, दीपाली, सुमन और ऐसी कितनी ही स्त्रियाँ जिन्होंने समाज कर पूर्ण किया है...जिनमें जोश है, हौसला है और लगन है एक नया समाज गढ़ने की और सच्चे नायक की भांति उस समाज का पथ प्रदर्शन करने की....

Post your comment

3 Comments

About The Author

Photograph

Trisha Gaur

Media/Journalist/Author

Andhra Pradesh ,  INDIA

a freelance writer...presently working with a private news channel...have a keen interest to write about anything and everything(ammmm....even gossip...i can be the best at it)....love singing...reading...composing music and writing(oh god...did i mention that again) 

View More 

Vodafone

Recent Blogs By Author

Sony